spot_img
Tuesday, June 25, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

Electric Gypsy: इंडियन आर्मी की इलेक्ट्रिक जिप्सी, सेना कमांडरों के सम्मेलन में किया पेश, जानें क्या है इसमें खास

Electric Gypsy: भारत और दुनिया में लगातार इलेक्ट्रिक वाहनों की डिमांड बढ़ती जा रही है। कई दोपहिया और चार पहिया वाहन निर्माता कंपनी अपने-अपने वाहन बाजार में लॉन्च कर चुकी है। इसके अलावा कुछ लोग अपनी पेट्रोल और डीजल गाड़ियों में भी रेट्रोफिटेड (Retrofitting) के द्वारा इलेक्ट्रिक मोटर और बैटरी लगवा रहे हैं, जिससे वे इलेक्ट्रिक अवतार में बदल जाती है। हाल ही में इंडियन आर्मी (Indian Army) ने भी एक जिप्सी को रेट्रोफिटेड के द्वारा इलेक्ट्रिक रूप दिया है, जिसे सेना कमांडरों के चल रहे सम्मेलन में पेश किया गया है।

पुरानी जिप्सियों को दिया इलेक्ट्रिक रूप

आज के दौर में बढ़ते इलेक्ट्रिक वाहनों की डिमांड के बीच अब इंडियन आर्मी (Indian Army) भी इलेक्ट्रिक वाहनों की होड़ में पीछे नहीं है। पुरानी मिलिट्री जिप्सियों को इलेक्ट्रिक वाहनों में बदलने का काम इंडियन आर्मी सेल, आईआईटी दिल्ली और टैडपोल ईवी नाम के एक स्टार्ट-अप ने मिलकर संयुक्त रूप से किया है। इस इलेक्ट्रिक जिप्सी की फोटोज को सोशल मीडिया पर देखा गया है।

इंडियन आर्मी की इलेक्ट्रिक जिप्सी

पुरानी मिलिट्री जिप्सी (Military Gypsy) को इंडियन आर्मी सेल (Indian Army Cell), आईआईटी दिल्ली और टैडपोल ईवी नाम के एक स्टार्ट-अप द्वारा इलेक्ट्रिक व्हीकल में बदला गया है। ये इलेक्ट्रिक कार पहली नजर में बिलकुल इलेक्ट्रिक वाहन जैसी दिख रही है। वहीं, इसके डिजाइन की बात करें तो इस पर बाहर की ओर कार के फेंडर पर Electric लिखा हुआ है, जिससे इसकी पहचान एक इलेक्ट्रिक जिप्सी के रूप में होती है। इसके अलावा इसके कलर की बात करें तो इसमें व्हाइट के साथ ग्रीन कलर यूज किया गया है और साइड में Pure EV के साथ भारतीय सेना का प्रतीक चिन्ह भी बनाया गया है। आपको बता दें, इस इलेक्ट्रिक जिप्सी की बैटरी के बारे में कोई अपडेट नहीं आयी है।

 

कितना सही होता है कार में रेट्रोफिटिंग

किसी भी वाहन में रेट्रोफिटिंग (Retrofitting) कराना कितना सही होता है, ये सवाल काफी हद तक सही है, क्योंकि इसके कितने फायदे होते हैं या फिर नुक्सान भी हो सकता है ? आपको बता दें, किसी भी कार में रेट्रोफिटिंग कराना के लिए 3 से 10 लाख रुपये का खर्च आता है और अगर आपकी कार बढ़िया रेंज की है, तो ये खर्च ज्यादा नहीं लगता। वहीं, अगर आपकी कार कम रेंज की है, तो आपके लिए ऐसा करना ज्यादा खर्चीला हो सकता है।

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts