- विज्ञापन -
Home Business Pradhan Mantri Awas Yojana : एक लाख परिवारों को बड़ी खुखखबरी, पीएम...

Pradhan Mantri Awas Yojana : एक लाख परिवारों को बड़ी खुखखबरी, पीएम मोदी ने PM JANMAN की पहली किस्त जारी की

276
pradhan-mantri-awas-yojana-on-monday-pm-narendra-modi-released-the-first-installment-of-pm-janman-to-one-lakh-beneficiaries

Pradhan Mantri Awas Yojana : हर कोई आज अपना आवास चाहता है, चाहे वह शहरी हो, ग्रामीण हो या आदिवासी। सभी को घर देने के लिए मोदी सरकार काम कर रही है। इसी कड़ी में सोमवार 15 जनवरी 2024 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (PMAY-G) के एक लाख लाभार्थियों को योजना की पहली किस्त जारी की।

- विज्ञापन -

बता दें कि सोमवार दोपहर 12 बजे पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधानमंत्री जनजाति आदिवासी न्याय महाअभियान (PM JANMAN) के तहत प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (PMAY-G) के एक लाख लाभार्थियों को पहली किस्त जारी की। इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने पीएम-जनमन के लाभार्थियों से बातचीत भी की।

सरकार के 10 साल गरीबों को समर्पित रहे – पीएम

प्रधानमंत्री ने ₹540 करोड़ की पहली किस्त जारी करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के 10 साल गरीबों के कल्याण के लिए समर्पित रहे हैं। “कोई देश तभी विकसित हो सकता है जब सरकारी योजनाओं का लाभ सभी तक पहुंचे। मेरी सरकार के 10 साल गरीबों को समर्पित रहे हैं।”

अनुसूचित जनजातियों के लिए 5 गुना बजट बढ़ा

पीएम ने कहा कि पिछले दशक में अनुसूचित जनजातियों के लिए समर्पित कल्याणकारी योजनाओं (Pradhan Mantri Awas Yojana) का बजट पांच गुना बढ़ गया और आदिवासी छात्रों के लिए छात्रवृत्ति ढाई गुना बढ़ गई। उन्होंने कहा कि आदिवासी छात्रों के लिए 500 से अधिक एकलव्य मॉडल स्कूलों के निर्माण पर काम चल रहा है, जबकि पहले यह संख्या 90 थी।

PVTG की सामाजिक-आर्थिक स्थिति में सुधार 

लगभग 24 हजार करोड़ रुपए के बजट वाला पीएम-जनमन, नौ मंत्रालयों के माध्यम से 11 महत्वपूर्ण हस्तक्षेपों पर केंद्रित है और इसका उद्देश्य विशेष रूप से कमजोर जनजातीय समूहों यानी पीवीटीजी को सुरक्षित आवास, स्वच्छ पेयजल और स्वच्छता, शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण, बिजली, सड़क और दूरसंचार कनेक्टिविटी जैसी बुनियादी सुविधाएं प्रदान करके उनकी सामाजिक-आर्थिक स्थितियों में सुधार करना है।

- विज्ञापन -