spot_img
Sunday, May 26, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

Yoga for colon cleansing: पेट की आंतों को साफ करने के लिए रोजाना करें ये 3 योगा, होगा फायदा

Yoga For Colon Cleansing: कई लोगों को कब्ज हो या न हो, लेकिन सुबह-सुबह पेट खाली करने में परेशानी जरूर होती है। पेट को ठीक से साफ करने के लिए घंटों बाथरूम में बैठना पड़ता है और उसके बाद भी अगर पेट साफ नहीं होता है तो पूरे दिन पेट दर्द होता रहता है। आंतों की दीवारें मल को आगे ले जाती हैं और शरीर से बाहर निकाल देती हैं लेकिन अगर आंतें कमजोर हो जाएं तो सही से पेट साफ नहीं हो पाता। कब्ज के इलाज के लिए आप अपनी डाइट में फाइबर से भरपूर खान-पान को शामिल कर सकते है,

लेकिन कब्ज का इलाज सिर्फ खाने से नहीं किया जा सकता। ऐसा करने के लिए आपको अपनी आंतों को मजबूत करने की भी जरूरत है जिसके लिए आपको व्यायाम करना जरूरी हैं। ऐसे में कुछ योगा अभ्यास आपके लिए काफी मददगार और फायदेमंद हो सकते हैं। ये योगासन करने में बहुत आसान हैं और तुरंत पेट की समस्या से राहत मिल सकती हैं। आइए हम आपको बताते हैं कुछ योगासन जिससे आप पेट की समस्याओं को दूर कर सकते हैं।

रिवॉल्व्ड क्रिसेंट लंज (परिवृत्त अंजनेयासन)

यह मुद्रा पेट की मांसपेशियों की मालिश करके आंतरिक अंगों को मोड़कर पाचन तंत्र को उत्तेजित करने में मदद कर सकता है। इससे कोलन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद मिलती है। जिससे पाचन में सुधार आता हैं। अगर आप रोजाना रिवॉल्व्ड क्रिसेंट लंज योग का अभ्यास करते हैं, तो कब्ज और अपच जैसी परेशानी दूर हो जाती है। ऐसे में आंतों की गंदगी को अच्छे से बाहर किया जा सकता है।

Yoga for colon cleansing
Yoga for colon cleansing

यह भी पढ़ें : USE SALT IN TEA: चाय में इस्तेमाल करें नमक? आपके सेहत के लिए हो सकता है काफी फायदेमंद

त्रिकोणासन (Yoga For Colon Cleansing)

आंतों की गंदगी को बाहर करने के लिए त्रिकोणासन की मदद ले सकते हैं। यह पेट के लिए काफी फायदेमंद होता है। यह गट हेल्थ में सुधार करता है। इससे कब्ज की परेशानी से राहत मिलती है। साथ ही पाचन स्वस्थ को बेहतर करने में मदद मिल सकती है। हालाँकि इतना ही नहीं नियमित रूप से त्रिकोणासन का अभ्यास करने से छाती, गर्दन, कूल्हों और कंधों की स्ट्रेचिंग अच्छे से होती है, जो मानसिक स्पष्टता की भावना को बढ़ावा देने में मदद करता है।

उष्ट्रासन

आंतों की गंदगी को बाहर करने के लिए आप उष्ट्रासन मुद्रा का अभ्यास कर सकते हैं। ये पेट के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। इस योगा की मदद से अधिवृक्क ग्रंथियों को उत्तेजित करने में मदद मिलती है। जो पाचन तंत्र को स्वास्थ्य और सुधार करता है। साथ ही इससे पेट में जमा गंदगी मिनटों में बाहर हो सकती है।

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts