spot_img
Saturday, June 22, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

Sanju Samson ने की शानदार कप्तानी, रवि अश्विन को बल्लेबाजी के लिए भेजा-आवेश को दिया आखिरी ओवर

Sanju Samson: अपनी कप्तानी में गुजरात को चैंपियन बनाने और दूसरे सीजन में फाइनल खिलाने वाले हार्दिक पांड्या मुंबई का कप्तान बनते ही अलग जोन में चे गए हैं. ऐसा लगता है उनको कप्तानी आती ही नहीं है. या फिर अपनी इगो से उन्होंने ये हाल किया है. अगर पांड्या को आगे बढ़ना है तो उन्हें रिषभ पंत और संजू सैमसन की आज की कप्तानी से सीखना चाहिए. शुरू में जब मुकेश कुमार ने जायसवाल को बोल्ड किया तो लगातार बॉलिंग चेंज करके पंत ने राजस्थान के बल्लेबाजों को बांधे रखा. वो लगातार नॉर्खिया और खलील को इस्तेमाल करते रहे.

Sanju Samson ने बैटिंग में दिया सरप्राइज
पंत की चाल को काटने के लिए संजू ने डगआउट में पहुंचते ही उन्हें सरप्राइज दे दिया और पांजवे नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए आर अश्विन को भेज दिया. इससे पंत की प्लानिंग पर असर पड़ा. नतीजा ये हुआ कि जो दिल्ली की बॉलिंग राजस्थान के बल्लेबाजों को हिलने नहीं दे रही थी. उन पर अश्विन ने हल्ला बोल दिया और तीन छक्के जड़ दिये…उनमें से दो छक्के तो उन्होंने नॉर्खिया जैसे तेज गेंदबाज को लगाए.

आर अश्विन 19 गेंदो में 29 रन बनाकर आउट हुए जिसमें उन्होंने तीन छक्के लगाए…संजू के इस बोल्ड मूव का असर ये हुआ कि यहां से पारी का रुख ही बदल गया. एक वक्त राजस्थान की टीम 10 ओवर में तीन विकेट पर मात्र 58 रन ही बना पाई थी और उसके बाद के 10 ओवर में 100 से ज्यादा रन जड़ दिये.

रियान पराग की शानदार बल्लेबाजी
हालांकि राजस्थान के लिए सबसे शानदार बल्लेबाजी रियान पराग ने की. जो इस साल डोमेस्टिक में शानदार खेल दिखाकर आए हैं और राजस्थान के लिए बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं. पराग ने बेहतरीन अर्धशतक लगाया और लगातार दो चौके और एक छक्का लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया. इतना ही नहीं पराग ने आईपीएल का अपना सर्वाधिक स्कोर भी बनाया.

एक वक्त था जब रियान पराग को सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग का सामना करना पड़ता था क्योंकि वो आईपीएल में ज्यादा रन नहीं बनाते थे. इसीलिए फैंसे के निशाने पर रहते थे लेकिन इस बार उन्होंने डोमेस्टिक क्रिकेट में तबाही मचा कर रख दी थी. रियान पराग सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बने वो भी 170 से ज्यादा के स्ट्राइक रेट से.

आर अश्विन ने की थी रियान पराग की तारीफ
जब आईपीएल में रियान पराग नहीं चल रहे थे तब अश्विन ने उनका साथ दिया था. उन्होंने रियान पराग का बचाव करते हुए कहा था कि, आईपीएल 2023 में खराब प्रदर्शन के बाद रियान पराग की अलोचना की गई. लेकिन हम भूल गए कि वो अभी युवा क्रिकेटर है, जो बेहतर हो रहा है. पराग ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी में असम के लिए उपयोगी पारियां खेली हैं. रणजी ट्रॉफी में छत्तीसगढ़ के खिलाफ 155 रन मारकर उन्होंने अपनी काबिलियत साबित की है.

आर अश्विन अगर किसी खिलड़ी की इतनी तारीफ कर रहे हैं तो मान लेना चाहिए कि इस दिग्गज गेंदबाज ने जरूर उसमें कुछ देखा होगा…जिसका असर अब दिख रहा है. राजस्थान के लिए पहले दोनों मैचों में रियान पराग ने बेहतरीन खेल दिखाया है.

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts