spot_img
Saturday, March 2, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

Election Result: 2024 से पहले कौन जीतेगा सेमीफाइनल? आज आएंगे नतीजे

2024 लोकसभा चुनाव से पहले चार राज्यों के चुनावी नतीजे आज आ रहे हैं. माना जा रहा है कि ये चुनाव 2024 के लिए सेमीफाइनल है. जो भी पार्टी इस चुनाव में बढ़त बनाएगी उसे आगामी लोकसभा चुनाव में फायदा होगा. सुबह 8 बजे से मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना में विधानसभा चुनावों के नतीजे आने शुरू हो जाएंगे. वहीं मिजोरम के नतीजे 4 दिसंबर को आएंगे. हर पार्टी की धड़कने तेज हैं. नतीजों से पहले ही सब अपनी-अपनी जीत का दावा कर रहे हैं.

मध्य प्रदेश की 230 सीटों, छत्तीसगढ़ की 90 सीटों, तेलंगाना की 119 सीटों और राजस्थान की 199 सीटों के नतीजे आज आएंगे.

राजस्थान में क्या बदल जाएगा रिवाज?

नतीजों को लेकर राजस्थान में सियासी हचलच सबसे ज्यादा है. राजस्थान में वैसे तो हर पांच साल पर सत्ता बदलने का रिवाज रहा है लेकिन इस बार के एग्जिट पोल कुछ और इशारा कर रहा है. इंडिया टुडे-एक्सिस माय इंडिया के एग्जिट पोल कांटे की टक्कर है लेकिन बढ़त कांग्रेस ने बनाई है. इंडिया टुडे- एक्सिस माय इंडिया के एग्जिट पोल में राजस्थान में कांग्रेस को 86 से 106 सीट मिलती दिख रही है. वहीं बीजेपी के खाते में 80 से 100 सीटें आ सकती हैं.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) प्रवीण गुप्ता ने बताया कि राजस्थान में 25 नवंबर को हुए विधानसभा चुनाव में पड़े वोटों की गिनती रविवार को राज्य के 36 केंद्रों पर की जाएगी. राजस्थान की 199 सीटों पर 1800 से अधिक उम्मीदवार मैदान में हैं.

मध्य प्रदेश में कमलनाथ या मामा?

उधर, मध्य प्रदेश में कमल होगा या कमलनाथ? इस सवाल का जवाब भी ईवीएम खुलने के साथ-साथ स्पष्ट हो जाएगा. यहां भी बीजेपी और कांग्रेस, दोनों की अपनी-अपनी जीत के दावे कर रही हैं. हालांकि चुनावी जंग में किसका दावा सच होगा और किसका भरोसा कम होगा, ये तस्वीर साफ होने में अब कुछ ही वक्त बचा है. लेकिन ये तय है कि काउंटिंग से ठीक पहले एमपी का सियासी पारा चरम पर है. क्योंकि भले ही एग्जिट पोल का आंकड़ा कांग्रेस के खिलाफ है, लेकिन कमलनाथ को इस बार बीजेपी की पराजय का पूरा विश्वास है.

मध्य प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों की गिनती 52 जिला मुख्यालयों पर होगी. इस चुनाव में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनके पूर्ववर्ती और प्रतिद्वंद्वी कमलनाथ जैसे राजनीतिक दिग्गजों सहित 2,533 उम्मीदवार मैदान में हैं.

छत्तीसगढ़ में चलेगा बघेल का जादू?

एग्जिट पोल के नतीजों के मुताबिक छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनती दिख रही है. हालांकि बीजेपी नेताओं का दावा है कि फाइनल रिजल्ट उनके पक्ष में होगा. इस बीच चुनावी नतीजों से ठीक पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर सभी बेटिंग एप्स पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है तो ऐसे में सवाल है कि क्या इस पत्र के जरिए भूपेश बघेल जीत को लेकर अपना भरोसा दिखाने की कोशिश कर रहे हैं. क्योंकि मतदान से पहले महादेव बेटिंग एप को बीजेपी ने बड़ा चुनावी मुद्दा बनाया था. इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के अनुसार, छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के 40-50 सीटें जीतने का अनुमान है. जबकि बीजेपी 36-46 सीटें जीत सकती है. अन्य 1-5 सीटें जीत सकते हैं.

छत्तीसगढ़ में वामपंथी उग्रवाद (एलडब्ल्यूई) से प्रभावित जिलों समेत राज्य के 33 जिलों के सभी मतगणना केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है. छत्तीसगढ़ की मुख्य निर्वाचन अधिकारी रीना बाबा साहेब कंगाले ने एक प्रेस कांफ्रेंस में में कहा, “मतगणना प्रक्रिया को सुचारू रूप से पूरा करने के लिए कुल 90 रिटर्निंग ऑफिसर, 416 सहायक रिटर्निंग ऑफिसर, 4596 मतगणना कर्मी और 1698 माइक्रो-ऑब्जर्वर नियुक्त किए गए हैं.”

तेलंगाना में क्या होने वाला है?

तेलंगाना में बीआरएस और कांग्रेस दोनों ही दलों के नेता अपनी अपनी पार्टी की जीत का दावा कर रहे हैं. साथ पार्टी नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं. इस बीच प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रेवंत रेड्डी पार्टी के पदाधिकारियों के साथ मुलाकात की. इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के मुताबिक 60 सीटों वाले इस राज्य में कांग्रेस को सरकार बनाती दिख रही है. पोल में कांग्रेस को 63 से 73 सीटें, सत्ताधारी बीआरएस को 34 से 77 सीटें, बीजेपी को 4 से आठ सीटें और अन्य को 5 से आठ सीटें मिलने का अनुमान है.

तेलंगानान में 2,290 प्रत्याशी मैदान में हैं, जिनमें बीआरएस सुप्रीमो चंद्रशेखर राव, उनके मंत्री-पुत्र केटी रामा राव, टीपीसीसी अध्यक्ष ए रेवंत रेड्डी और भाजपा के लोकसभा सदस्य बंदी संजय कुमार, डी अरविंद और सोयम बापू राव शामिल हैं. बीआरएस ने सभी 119 सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं जबकि कांग्रेस ने एक सीट अपने सहयोगी सीपीआई को दी है.

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts