spot_img
Tuesday, June 25, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

बंपर रिटर्न के लिए Post Office की इन Saving Schemes में किया है निवेश तो नहीं मिलेगी टैक्स में छूट!  

Post Office Saving Schemes : अगर आप भी अपना टैक्स बचाने के लिए पोस्ट ऑफिस या किसी अन्य सेविंग स्कीम में निवेश करते हैं तो आपके लिए सबसे पहले ये जानना जरूरी है कि किस स्कीम में निवेश करने पर आपको इनकम टैक्स का लाभ मिलेगा और कौन-सी में नहीं मिलेगा? अगर पोस्ट ऑफिस (Investment in Post Office Saving Schemes) की योजनाओं की बात करें तो इसमें सभी सरकारी स्कीम्स में निवेश पर आपको टैक्स लाभ नहीं मिलता है।

दरअसल, सरकार की ओर से कई ऐसी इन्वेस्टमेंट स्कीम्स शुरू की गई हैं, जिन पर आपको रिटर्न तो काफी अच्छा मिलता है, लेकिन आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80सी के तहत निवेश पर टैक्स लाभ नहीं मिलता। तो आज हम आपको ऐसी ही कुछ योजनाओं के बारे में बताएंगे।

1. महिला सम्मान बचत योजना (Mahila Samman Savings Certificate)

मोदी सरकार की महिला सम्मान सेविंग सर्टिफिकेट योजना (Mahila Samman Savings Certificate) महिलाओं के लिए बनाई गई एक छोटी बचत योजना है। देश की महिलाओं में बचत की प्रकृति विकसित करना इस योजना का उद्देश्य है। इस योजना के लिए कोई उम्र सीमा निर्धारित नहीं है।

बता दें कि इस योजना में मिलने वाले ब्याज पर टैक्स लगता है। यानी इस स्कीम में आपको टैक्स सेविंग एफडी की तरह किसी प्रकार की छूट नहीं दी जाती। प्रत्येक व्यक्ति के टैक्स स्लैब (कर श्रेणी) और ब्याज आय के आधार पर महिला सम्मान बचत योजना से प्राप्त ब्याज पर टीडीएस काटा जाता है।

2. राष्ट्रीय बचत समय जमा खाता (National Savings Time Deposit Account)

पोस्ट ऑफिस के इस टाइम डिपॉजिट अकाउंट (National Savings Time Deposit Account) में आप एक, दो, तीन या पांच साल के लिए खाता खोल सकते हैं। इस खाते पर एक साल के लिए 6.9 फीसदी, दो साल के लिए 7.0 फीसदी और तीन साल के लिए 7.1 फीसदी ब्याज मिलता है। आप बाद में इसकी अवधि को भी बढ़ा सकते हैं। इसके लिए आपको पोस्ट ऑफिस में एक फॉर्म भरना होगा।

बता दें कि इस स्कीम में पांच साल की टाइम डिपॉजिट पर आपको इनकम टैक्स में छूट मिलेगी। इनकम टैक्स एक्ट 1961 के तहत पांच साल की टाइम डिपॉजिट पर 1.5 लाख रुपये तक के निवेश पर टैक्स छूट मिलती है। लेकिन इससे कम की इन्वेस्टमेंट पर आपको टैक्स में छूट का लाभ नही मिलेगा।

 3. राष्ट्रीय बचत आवर्ती जमा खाता (National Savings Recurring Deposit Account)

पोस्ट ऑफिस की इस योजना (National Savings Recurring Deposit Account) में आपको 5 साल तक सालाना 6.7 फीसदी के हिसाब से ब्याज दिया जाता है। साथ ही हर साल आपको चक्रवृद्धि ब्याज (compound interest) का लाभ भी मिलता है। इस योजना में आप एकल या संयुक्त दोनों खाता खोल सकते हैं। साथ ही आप हर महीने कम से कम 100 रुपये या इसके गुणक में जमा करके इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इसमें जमा की कोई सीमा निर्धारित नहीं है।

4. किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra)

चौथी योजना है किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra), इसमें भी निवेश करने पर आपको इनकम टैक्स में छूट नहीं मिलेगी। बहुत से लोगों को भ्रम रहता है कि इसमें निवेश पर उन्हें टैक्स लाभ मिलता है।

किसान विकास पत्र में जमा राशि पर वार्षिक ब्याज ‘अन्य स्रोतों से आय’ के रूप में टैक्स योग्य है। अच्छी बात यह है कि मैच्योरिटी के बाद निकाले गए पैसे पर टीडीएस नहीं कटता है। हालांकि टैक्स छूट न मिलने के बावजूद किसान विकास पत्र एक सुरक्षित इन्वेस्टमेंट है।

 5. पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना (Post Office MIS)

पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम (Post Office Monthly Income Scheme) निवेश के लिए एक अच्छा ऑप्शन है। इसमें आप एकल खाते में अधिकतम 9 लाख रुपये तक, वहीं ज्वाइंट अकाउंट में 15 लाख रुपये तक का निवेश कर सकते हैं। इसमें आपको सालाना 7.4 फीसदी के हिसाब से ब्याज मिलेगा, लेकिन इस पर टैक्स लगता है।

आपको बता दें कि यह निवेश आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80सी के तहत नहीं आता है। सामान्य लाभार्थियों के लिए 40,000 रुपये से अधिक के ब्याज पर टीडीएस काटा जाता है। वहीं वरिष्ठ नागरिकों के लिए यह सीमा 50,000 रुपये से अधिक के ब्याज पर है।

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts