spot_img
Saturday, March 2, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

Retail Inflation: आम आदमी को बड़ी राहत, खुदरा मंहगाई जनवरी में घटकर हुई 5.1%

Retail Inflation: सोमवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, इस साल जनवरी में भारत की खुदरा मुद्रास्फीति दिसंबर 2023 में 5.69 प्रतिशत से घटकर 5.1 प्रतिशत हो गई है, जिससे घरेलू बजट में कुछ राहत मिली। खाद्य मुद्रास्फीति, जो कुल उपभोक्ता मूल्य सूचकांक का लगभग आधा हिस्सा है (CPI), दिसंबर में 9.05 प्रतिशत से गिरकर जनवरी में 8.3 प्रतिशत हो गई। हालाँकि, इस दौरान सब्जियों, दालों और मसालों की कीमतों में दोहरे अंकों में वृद्धि दर्ज की गई, किंतु खाना पकाने के तेल की कीमतों में गिरावट जारी रही।

अनाज, दाल सहित अन्य चीजों में आई तेजी

आंकड़ों से पता चलता है कि सब्जियों की कीमतें 27.03 प्रतिशत तक बढ़ गईं, जो दिसंबर के समय 31.34 प्रतिशत से कम थी। जहां तक दालों का सवाल है, उसमे भी राहत नहीं मिली क्योंकि वे 19.54 प्रतिशत महंगी हो गईं, जबकि मसाले 16.36 प्रतिशत महंगे हो गए। अनाज की कीमतें जनवरी में 7.83 फीसदी बढ़ीं, जो दिसंबर में 9.53 फीसदी थीं.

RBI ने नहीं की ब्याज दरों में कटौती

बता दें कि, उपभोक्ता मूल्य मुद्रास्फीति अब आरबीआई (RBI) के 2-6 प्रतिशत लक्ष्य सीमा के 4 प्रतिशत मध्य बिंदु से ऊपर है और यही मुख्य कारण है कि आरबीआई आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए ब्याज दरों में कटौती नहीं कर रहा है।

केंद्रीय बैंक स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए मुद्रास्फीति को नियंत्रण में रखने का इच्छुक है और उसने अपनी द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षाओं में लगातार छह बार रेपो दर को 6.5 प्रतिशत पर स्थिर रखा है।

ये भी पढ़ें- LIC ने निवेशकों को दी बधाई, 5 दिन में 86000 करोड़ रुपये की कमाई की

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts