spot_img
Tuesday, July 9, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

महंगाई से मिली मामूली राहत, अप्रैल के मुकाबले मई में खुदरा मुद्रास्फीति दर में आई गिरावट, देखें आंकड़े

Inflation in India: लोकसभा चुनाव के बाद से आम जनता को एक के बाद एक महंगाई के कई झटके लगे। वहीं अब लोगों के लिए राहत की खबर है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक मई में भारत की खुदरा मुद्रास्फीति दर घटकर 4.75% रही है। बुधवार को जारी सरकारी आंकड़ों में भारत की वार्षिक खुदरा मुद्रास्फीति अप्रैल में 4.83 प्रतिशत से घटकर मई में 4.75 प्रतिशत पर आ गई है।

अप्रैल के मुकाबले मई में मामूली कमी

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक खाद्य वस्तुओं की मुद्रास्फीति (Food Inflation) में अप्रैल के मुकाबले मई में मामूली गिरावट आई है। अप्रैल में खाद्य वस्तुओं की मुद्रास्फीति 8.70 प्रतिशत रही, जबकि मई में 8.69 प्रतिशत रही है। फरवरी 2024 से हेडलाइन मुद्रास्फीति में क्रमिक रूप से कमी देखी गई है। हालांकि, यह फरवरी में 5.1 प्रतिशत से अप्रैल 2024 में 4.8 प्रतिशत तक सीमित रही है।

सरकार ने RBI को दिए निर्देश 

बता दें कि भारत सरकार ने रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) को यह सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी दी है कि सीपीआई मुद्रास्फीति 2 प्रतिशत के मार्जिन के साथ 4 प्रतिशत पर बनी रहे। जून की शुरुआत में आरबीआई ने 2024-25 के लिए सीपीआई मुद्रास्फीति 4.5 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था, जिसमें पहली तिमाही 4.9 प्रतिशत, दूसरी तिमाही 3.8 प्रतिशत, तीसरी तिमाही 4.6 प्रतिशत और चौथी तिमाही 4.5 प्रतिशत थी।

यह भी पढ़ें : गर्दन झुकाकर फोन चलाते हैं तो हो जाएं सावधान! हो सकती है ये गंभीर बीमारी

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts