spot_img
Sunday, June 23, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

Kanpur Suicide: ‘तुम मेरा कुछ नहीं बिगाड़ सकते, कोई प्रूफ नहीं’ चौकी इंचार्ज से तंग होकर युवक ने लगाई फांसी, दरोगा परिवार समेत फरार

Kanpur Suicide News: ये मेरा पहला और लास्ट वीडियो है। चौकी इंचार्ज सतेंद्र के खिलाफ और अजय यादव के खिलाफ मैं गवाही दे रहा हूं। अगर मैं फांसी लगाता हूं तो इसके जिम्मेदार सतेंद्र कुमार चौकी इंचार्ज होंगे। मुझे डायरेक्ट छेड़-छेड़ के परेशान कर दिया है, आज से करीब डेढ़-दो महीने हो चुके हैं। मुझसे बोलते हैं कि तुम मेरा कुछ नहीं कर पाओगे, ज्यादा से ज्यादा मेरा ट्रांसफर करा पाओगे, तुम्हारे पास मेरा क्या प्रूफ है, कोई प्रूफ नहीं है।

मैं मंडी में सब्जी की दुकान लगाता था। मेरे से फ्री में सब्जी लेते थे और मुझसे कई बार पैसे भी छीन चुके थे, दो-चार, पांच हजार करके। कभी भी मिलने पर गाली देते रहते हैं। मुझे ये सब पसंद न होने के कारण मैं फांसी लगाकर जान दे रहा हूं।

यह वीडियो सोशल मीडिया पर जारी कर यूपी कानपुर के सचेंडी में तैनात चौकी इंचार्ज की प्रताड़ना से परेशान होकर सचेंडी के ही रेने वाले सब्जी दुकानदार सुनील राजपूत (22) ने फांसी लगाकर जान दे दी। मरने से पहले सुनील ने सोशल मीडिया पर दो वीडियो अपलोड किए हैं। इसमें चौकी इंचार्ज और सिपाही से प्रताड़ित होकर सुसाइड करने की बात कही है।

सुनील के सुसाइड करने के बाद दरोगा चौकी में ताला लगाकर परिवार समेत भाग निकला। पुलिस और फोरेंसिक टीम मौके पर जांच करने पहुंची। परिजनों की तहरीर पर सचेंडी थाने में चौकी इंचार्ज और सिपाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

दूसरे वीडियो में परिजनों से मांगी माफी (Kanpur Suicide)

सुनील चकरपुर सब्जी मंडी में सब्जी की दुकान लगाते थे। भाई छोटे ने सचेंडी थाने में तहरीर देते हुए चकरपुर सब्जी मंडी चौकी इंचार्ज सतेंद्र कुमार और अजय यादव पर आरोप लगाया कि चौकी इंचार्ज और सिपाही आए दिन भाई से फ्री में सब्जी ले जाते थे। इतना ही नहीं रुपए छीन लेना और मारपीट करना आम बात हो गई थी।

इससे परेशान होकर सोमवार देर रात सुनील ने फांसी लगाकर जान दे दी। मरने से पहले सुनील ने अपने फेसबुक पर दो वीडियो अपलोड किए हैं। इसमें चौकी इंचार्ज सतेंद्र और कॉन्स्टेबल अजय यादव पर मारपीट और रुपए छीनने के साथ ही रोजाना फ्री में सब्जी लेने का आरोप लगाया है।

सुबह कमरे में फंदे से लटका मिला शव

मंगलवार सुबह काफी देर तक सुनील अपने कमरे से बाहर नहीं निकला तो परिवार के लोग सुनील कमरे में पहुंचे। यहां पर उन्होंने देखा कि सुनील का शव फांसी के फंदे से लटका है। इसके बाद परिवार के लोगों ने सचेंडी थाने में सूचना दी। सचेंडी थाने की पुलिस, फोरेंसिक टीम, एसीपी पनकी टीबी सिंह, डीसीपी वेस्ट विजय ढुल समेत अन्य अफसर मौके पर पहुंचे। फासेंसिक टीम के जांच करने के बाद शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया।

सुसाइड से पहले मृतक के दो वीडियो सामने आए हैं। मौत से पहले उसने दोनों वीडियो फेसबुक पर अपलोड किए थे। वीडियो में आरोप लगाया है कि सचेंडी थाने में तैनात चकरपुर सब्जी मंडी चौकी इंचार्ज सतेंद्र कुमार और कॉन्स्टेबल अजय यादव की प्रताड़ना से सुसाइड कर रहा है। इसी आधार पर चौकी इंचार्ज और कॉन्स्टेबल के खिलाफ आईपीसी की धारा-306 (आत्महत्या के लिए उकसाने) समेत अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की है। पूरे मामले की गहनता से जांच की जा रही है।

– विजय ढुल, डीसीपी वेस्ट कानपुर कमिश्नरेट

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts