spot_img
Monday, June 17, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

UP Weather Alert: यूपी के इन जिलों में हीटवेव का रेड अलर्ट, बच्चों-बुजुर्गों के लिए एडवाइजरी जारी

UP Weather Alert: उत्तर प्रदेश में पड़ रही भीषण गर्मी दिन प्रतिदिन और विकराल होती जा रही है। बीते शनिवार यानि 18 मई को कानपुर देश का सबसे गर्म शहर रहा। यहां अधिकतम तापमान 46.9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। देश के टॉप-5 सबसे गर्म शहरों में यूपी के 3 शहर शामिल रहे। वेस्ट यूपी में गर्मी खराब स्थिति में पहुंच गई है। मौसम विभाग ने रविवार को 8 जिलों के लिए गर्मी और हीटवेव का रेड अलर्ट जारी किया है।

इस दौरान 40 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चलने का अनुमान है और पारा 47 डिग्री सेल्सियस के पार जाएगा। इसके साथ ही प्रदेश के 27 जिलों के लिए ऑरेंज और 28 जिलों के लिए यलो अलर्ट जारी है। रविवार को भीषण गर्मी के साथ उमस भी सताएगी।

यूपी में गर्मी और हीटवेव का रेड अलर्ट (UP Weather Alert)

कानपुर की सीएसए यूनिवर्सिटी के मौसम विज्ञानी डॉ. सुनील पांडेय ने बताया, यूपी में इस सीजन में पहली बार गर्मी और हीटवेव का रेड अलर्ट जारी किया गया है। इसका मतलब तापमान सारे रिकॉर्ड तोड़ सकता है, जिससे जानलेवा गर्मी पड़ेगी। पारा 47 डिग्री सेल्सियस को क्रास करेगा।

बच्चों और बुजुर्गों के लिए एडवाइजरी जारी

गर्मी और हीटवेव का प्रकोप इस कदर होता है, जिससे जान-माल के नुकसान का सबसे ज्यादा डर रहता है। यह मौसम के सबसे खराब स्तर को दिखाता है। प्रशासन को भी सावधान रहने के लिए एडवाइजरी जारी की जाती है। मौसम विभाग ने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा है कि जरूरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकलें। बच्चे और बुजुर्ग दोपहर में घर से निकलने से बचें।

कानपुर में गर्मी ने 29 सालों का तोड़ा रिकॉर्ड

डॉ. सुनील पांडेय ने बताया, कानपुर में गर्मी ने 29 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। 18 मई 1995 को अधिकतम तापमान 45.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। तब से अब 18 मई 2024 को 46.9 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया है जो कि काफी खतरनाक साबित हो सकता है।

कल से पूर्वी यूपी का मौसम बदलेगा

सुनील पांडेय ने बताया, यूपी में सीजन में पहली बार गर्मी और हीटवेव का रेड अलर्ट (UP Weather Alert) जारी किया गया है। मई महीने में अभी ऐसा ही मौसम रहेगा। भीषण गर्मी और उमस लोगों को परेशान करती रहेगी। अब रातें भी गर्म होने लगी हैं। एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ पाकिस्तान और उससे सटे जम्मू-कश्मीर की तरफ आ रहा है। इससे पूर्वाेत्तर राज्यों में बारिश हो सकती है। यूपी में 21 मई से बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, संतकबीरनगर, महाराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर और देवरिया में बारिश के आसार हैं।

कब जारी होता है अलर्ट?

1. रेड अलर्ट

मौसम विभाग के मुताबिक, जब गर्मी या लू का प्रकोप इस कदर बढ़ जाता है कि जान-माल के नुकसान का डर रहता है। तापमान 47 डिग्री सेल्सियस को पार करने की स्थिति में होता है। उस स्थिति में रेड अलर्ट जारी किया जाता है। लोगों को सीधे तौर पर यह बताया जाता है कि मौसम बहुत खराब स्थिति में पहुंच चुका है, अब सावधान रहें।

2. ऑरेंज अलर्ट

ऑरेंज अलर्ट तब जारी होता है जब गर्मी से बचने के लिए सावधानी बरतने की जरूरत होती है। इसका मतलब आने वाले दिनों में पड़ने वाली भीषण गर्मी को लेकर लोगों को पहले ही ऑरेंज अलर्ट के माध्यम से सतर्क करने की कोशिश है। इस अलर्ट में लोगों को जरूरी होने पर ही घरों से निकलने की सलाह दी जाती है। इसमें तापमान 43 से 45 डिग्री के बीच दर्ज किया जाता है।

3. यलो अलर्ट

यलो अलर्ट जारी करने का मकसद लोगों को सचेत करना है। इसे मौसम विभाग की चेतावनी के तौर पर देखा जा सकता है। लोगों को सलाह दी जाती है कि आने वाले दिनों में मौसम बिगड़ने वाला है। यह अलर्ट जस्ट वॉच का सिग्नल है। इसमें अधिकतम तापमान 40 से 42 डिग्री के बीच दर्ज किया जाता है।

4. ग्रीन अलर्ट

ग्रीन अलर्ट उस स्थिति में जारी किया जाता है, जब हालात एकदम सामान्य होते हैं। किसी प्रकार का जोखिम नहीं होता है। यह अलर्ट के बजाय एक सुकून भरा मैसेज होता है जो लोगों को बताता है कि अब प्रचंड गर्मी से राहत मिल गई है या मिलने वाली है।

कब चलती है हीटवेव?

मौसम विभाग के मुताबिक, हीटवेव तब चलती है जब मैदानी इलाकों में टेम्परेचर 40 डिग्री, कोस्टल यानी तटीय इलाकों में 37 डिग्री और पहाड़ी इलाकों में 30 डिग्री हो जाए। सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस तापमान बढ़ने पर हीटवेव और 6.4 डिग्री का इजाफा होने पर सीवियर हीटवेव चलती है।

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts