spot_img
Monday, April 15, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

Paytm: RBI की कार्रवाई के बाद One97 Communications ने बनाई एडवाइजरी कमेटी, जानें इसके सदस्यों के नाम

पेटीएम (Paytm) की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड (One97 Communications Limited) के बोर्ड ने शुक्रवार को फर्म के भीतर कॉर्पोरेट प्रशासन मामलों को मजबूत करने के लिए तीन सदस्यीय समूह सलाहकार समिति की स्थापना की घोषणा की। पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने बाहरी लेखा परीक्षकों से प्रस्ताव के लिए अनुरोध (RFP) भी जारी किया है।

Sebi के पूर्व अध्यक्ष एम दामोदरन इस समिति के प्रमुख होंगे

कंपनी ने एक एक्सचेंज फाइलिंग में कहा कि भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (Sebi) के पूर्व अध्यक्ष एम दामोदरन इस समिति के प्रमुख होंगे और अनुपालन और नियामक मामलों को मजबूत करने के लिए ओसीएल बोर्ड के साथ काम करेंगे।

ये निर्णय भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) द्वारा स्पष्ट किए जाने के एक दिन बाद आए हैं कि उसने विजय शेखर शर्मा के नेतृत्व वाले भुगतान बैंक को लगातार RBI द्वारा लगे बैन के कारण 1 मार्च से जमा-लेने और फंड हस्तांतरण सहित अपने अधिकांश कार्यों का संचालन करने से रोक दिया है।

अन्य सदस्यों में इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया के पूर्व अध्यक्ष मुकुंद चितले हैं और आंध्रा बैंक के पूर्व अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक रामचंद्रन राजारमन और केंद्रीय सतर्कता आयोग के सलाहकार बोर्ड के सदस्य। यदि आवश्यक हुआ तो पैनल और अधिक सदस्यों को जोड़ा जा सकता है।

वहीं,ओसीएल ने कहा कि कंपनी का प्रबंधन नियामक और अनुपालन ढांचे का पालन करते हुए स्थायी व्यापार विकास को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है।

शेयप मार्केट में हुआ बुरा हाल

इस बीच, पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने कंपनी की अनुपालन प्रक्रियाओं के ऑडिट के लिए बाहरी लेखा परीक्षकों से प्रस्ताव के लिए अनुरोध (RFP) जारी किया है। इसके साथ ही शुक्रवार को बीएसई पर ओसीएल (One97 Communications Limited) के शेयर 6.09 फीसदी की गिरावट के साथ 419.85 रुपये पर बंद हुए।

पिछले सप्ताह, बड़े पैमाने पर अपने ग्राहक को जानें संबंधी उल्लंघनों की चिंताओं के कारण मनी-लॉन्ड्रिंग संबंधी चिंताओं के कारण रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा पेटीएम पेमेंट्स बैंक के खिलाफ नियामक कार्रवाई की गई।

अन्य चिंताओं में प्रमोटर समूह (One97 Communications Limited) के साथ दूरी बनाए न रखना, प्रमोटरों को भुगतान का खुलासा न करना, अनुपालन की गलत प्रस्तुतियाँ, और अनुपालन और पारदर्शिता इसमें शामिल है। वहीं एक अलग नोट में, OCL ने कंपनी  उसके सहयोगियों और संस्थापक और मुख्य कार्यकारी के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय की जांच की रिपोर्टों का खंडन किया।

कंपनी ने बीते दिन दी कुछ जरूर जानकारी

बता दें, बैंकिंग नियामक ने गुरुवार को स्पष्ट किया था कि पिछले महीने जारी किया गया उसका निर्देश पेटीएम पेमेंट्स बैंक (Paytm Payments Bank) से संबंधित है, न कि पेटीएम ऐप (Paytm App) से। आरबीआई (RBI) ने अगले सप्ताह भुगतान बैंक मुद्दे पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों की एक सूची जारी करने की योजना की भी घोषणा की।

ये भी पढ़ें- PF खाताधारकों की जमा राशि की ब्याज में हो सकती है बड़ी कटौती, EPFO द्वारा INTEREST RATE 8% करने की संभावना

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts