spot_img
Saturday, May 25, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

Kanpur Schools Bomb Threat: शहर के 10 स्कूलों को बम से उड़ाने की धमकी, प्रशासन में मची खलबली

Kanpur Schools Bomb Threat: दिल्ली एनसीआर (Delhi NCR) और लखनऊ (Lucknow) के बाद कानपुर के करीब दस स्कूलों को बम से उड़ाने की धमकी मिली है। बुधवार सुबह पुलिस, बम निरोधक दस्ता और डॉग स्क्वायड की टीम स्कूलों में जांच करने पहुंची। पुलिस सबसे पहले गुमटी इलाके में श्री सनातन धर्म एजुकेशन स्कूल पहुंचीं। पुलिस को अचानक स्कूल के अंदर देखकर अफरा तफरी का माहौल हो गया।

स्कूल के बच्चे भी कुछ देर के लिए सहम से गए और क्लास रूम से बाहर आ गए। स्कूल प्रबंधन ने तुरंत पैरेंट्स को सूचना देने के साथ ही स्कूल में छुट्टी कर दी। टीम ने उन सभी स्कूलों की एक-एक करके जांच की जिनका नाम ईमेल में शामिल था।

पुलिस ने बताया जिन स्कूलों को बम से उड़ाने की धमकी (Kanpur Schools Bomb Threat) मिली, उनमें गुलमोहर विहार पब्लिक स्कूल, केडीएमए स्कूल, केंद्रीय विद्यालय कैंट, सनातन धर्म एजुकेशन सेंटर, द चिंटल्स स्कूल, केंद्रीय विद्यालय अर्मापुर, वीरेंद्र स्वरूप स्कूल सिविल लाइंस आदि हैं।

13 मई को स्कूलों को दी गई थी धमकी (Kanpur Schools Bomb Threat)

दरअसल, 13 मई को ई-मेल के जरिए स्कूलों को धमकी दी गई। लेकिन, उस दिन वोटिंग के चलते छुट्टी थी, इसलिए ई-मेल चेक नहीं हुआ। 14 मई की शाम जानकारी मिलने के बाद पुलिस को सूचना दी। स्कूल प्रबंधकों ने पुलिस कमिश्नर से बम की धमकी मिलने की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया कि धमकी भरा ई-मेल भेजने में रूसी सर्वर का इस्तेमाल हुआ है।

रूसी सर्वर का किया गया इस्तेमाल

धमकी भरा ई-मेल मिलने के बाद बुधवार को कई स्कूलों ने छुट्टी कर दी। पुलिस को शक है कि 13 मई को वोटिंग थी, उसी को प्रभावित करने के लिए मेल से धमकी भेजी गई थी, लेकिन स्कूल प्रबंधकों को इसकी जानकारी बाद में हो सकी। जिन स्कूलों को उड़ाने की धमकी दी गई, उनमें कई स्कूल मतदान केंद्र बनाए गए थे। वोटिंग वाले दिन दहशत का माहौल बनाने की साजिश थी।

पुलिस ने स्कूलों को ऐहतियात बरतने के दिए निर्देश

पुलिस ने बताया कि स्कूलों को ऐहतियात बरतने का निर्देश दिया गया है। ई-मेल वाईफाई नेटवर्क के जरिए भेजी गई है या वीपीएन (वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क) का इस्तेमाल किया गया है। इसका पता किया जा रहा है। इंस्ट्रूमेंट के नाम से आई ई-मेल को भेजने के लिए जीमेल का इस्तेमाल किया गया है।

kanpur-schools-bomb-threat-threat-to-bomb-10-schools-of-the-city-created-panic-in-the-administration

इसमें भेजने वाले के नाम के स्थान पर instrumentinbox.ru लिखा है। केडीएमए स्कूल को जो ई-मेल आई है, उसमें रिसीवर ईमेल के स्थान पर kv2armapur@gmail.com लिखा है। एसओ नजीराबाद कौशलेन्द्र सिंह के मुताबिक, सनातन धर्म स्कूल में जो मेल आई है, उसमें रिसीवर ईमेल में एक अन्य स्कूल का नाम लिखा है।

अन्य राज्यों में भी इसी डोमेन का किया गया इस्तेमाल (Kanpur Schools Bomb Threat)

डीसीपी साउथ रविन्द्र कुमार ने बताया कि जयपुर, गुड़गांव, गाजियाबाद, दिल्ली और लखनऊ पुलिस से बात की गई है। जिस डोमेन से कानपुर के स्कूलों को बम से उड़ाने का ई-मेल आया है। उसी डोमेन का इस्तेमाल करके इन शहरों में भी धमकी दी गई थी। एडिशनल पुलिस कमिश्नर हरिश्चंद्र ने बताया कि स्कूलों की जांच की जा रही है। एहतियातन स्कूलों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। मुकदमा दर्ज कर स्कूलों में जांच की गई।

अंग्रेजी में लिखी मेल में उर्दू शब्दों का इस्तेमाल

पुलिस सूत्रों के मुताबिक स्कूलों को धमकी भरा जो मेल आया है, वह अंग्रेजी भाषा है। इसमें कई उर्दू शब्दों को इस्तेमाल किया गया है। एक पुलिस अफसर ने बताया कि भारत से यदि कोई ई-मेल भेजा जाता है तो उसमें आईएन लिखा होता है लेकिन धमकी भरे ई-मेल में यूएन लिखा है। अब तक गाजियाबाद, नोएडा, लखनऊ समेत कई जिलों के स्कूलों व प्रतिष्ठानों में धमकी भरे ई-मेल आ चुके हैं। पुलिस की जांच में यह सभी फर्जी पाए गए हैं।

जांच के बाद अपने समय से खुलेंगे स्कूल

गुलमोहर पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल अमिता तिवारी ने बताया कि पुलिस ने पूरे स्कूल की जांच की। बम निरोधक दस्ते ने भी चप्पे चप्पे की छानबीन की, लेकिन कुछ भी नहीं मिला। बुधवार को स्कूल बंद कर दिया गया है। कल से अपने समय पर स्कूल खुलेगा। अन्य स्कूलों में भी जांच के दौरान सब ठीक मिलने से सभी ने राहत की सांस ली। सभी का कहना है कि स्कूलों का संचालन नियमित रूप से अपने समयानुसार किया जाएगा।

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts