- विज्ञापन -
Home Trending Rahul Gandhi की यात्रा का बदला नाम, 66 दिनों में 6700 से...

Rahul Gandhi की यात्रा का बदला नाम, 66 दिनों में 6700 से ज्यादा किमी की दूरी!

266
Rahul Gandhi Bharat Jodo nyay yatra

Rahul Gandhi Yatra : भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) के बाद अब कांग्रेस नई यात्रा की ओर बढ़ रही है। 14 जनवरी से शुरू होने वाली कांग्रेस (Congress Yatra) की यात्रा का नाम बदल चुका है। इसके साथ ही यात्रा का रूट मैप भी सामने आ गया है। ये यात्रा मणिपुर से लेकर मुंबई तक चलेगी। इस नए रूट पर 110 जिलों से होते हुए राहुल गांधी 6700 किलोमीटर से ज्यादा की यात्रा करेंगे।

- विज्ञापन -

बता दें कि गुरुवार को कांग्रेस ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi Yatra) की यात्रा 2.0 का नाम बदलकर ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ (Bharat Jodo Nyay Yatra) कर दिया है। यात्रा में जहां भी संभव हो सके भारतीय गुट के सभी नेताओं को शामिल होने के लिए आमंत्रित किया जायेगा।

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के 2023 के विधानसभा चुनावों (Congress in Assembly Elections 2023) में हार के बाद अब कांग्रेस लोकसभा चुनावों (Loksabha Election 2024) में जीत हासिल करने के लिए अभी से जुटी नजर आ रही है। देश की सबसे पुरानी पार्टी मणिपुर से मुंबई तक की यात्रा पर भरोसा कर रही है।

कांग्रेस महासचिव संचार प्रभारी जयराम रमेश (Jairam Ramesh) ने गुरुवार को एक्स पर एक पोस्ट में राहुल गांधी द्वारा की जाने वाली यात्रा के रूट मैप की जानकारी दी है।

जयराम रमेश ने गुरुवार को एक्स पर पोस्ट कर लिखा कि “यह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस द्वारा 14 जनवरी, 2024 को मणिपुर से मुंबई तक शुरू की जा रही भारत जोड़ो न्याय यात्रा का रूट मैप है। राहुल गांधी 66 दिनों में 110 जिलों से होकर 6700 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करेंगे।”

उन्होंने कहा कि पार्टी को उम्मीद है कि यह मार्च पिछली ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की तरह ही प्रभावशाली और परिवर्तनकारी साबित होगा।

67 दिनों में 6700 से ज्यादा किमी की दूरी

बता दें कि यात्रा 14 जनवरी को मणिपुर की राजधानी इंफाल से शुरू होगी और 20 मार्च को देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में समाप्त होगी। यह यात्रा 67 दिनों में 15 राज्यों, 110 जिलों और 110 लोकसभा सीटों से होकर 6,713 किलोमीटर की दूरी तय करेगी।

यूपी में बीतेंगे यात्रा के सबसे ज्यादा दिन

भाजपा शासित उत्तर प्रदेश में ये यात्रा सबसे अधिक 11 दिन चलेगी। जबकि लोकसभा में सबसे ज्यादा सदस्य भेजने वाले उत्तर प्रदेश में यात्राएं 20 जिलों में 1,074 किलोमीटर की दूरी तय करेंगी। कांग्रेस ने इस यात्रा में अरुणाचल प्रदेश को जोड़कर अपनी यात्रा का दायरा भी बढ़ा दिया है।

- विज्ञापन -