spot_img
Sunday, June 23, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

Kanpur Cyber Fraud: महिला से लाखों की आनलाइन ठगी करने वाले दो आरोपी गिरफ्तार, ऐसे लेते थे लोगों को झांसे में

Kanpur Cyber Fraud: घर बैठे ऑनलाइन ट्रेडिंग करने के नाम पर महिला से लाखों रुपये ठगी करने वाले दो शातिर पुलिस की गिरफ्त में आ गए। साइबर क्राइम पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस ने आरोपियों के खाते से साढ़े सात लाख रुपये, मोबाइल, सिम बरामद किए हैं। पुलिस ने रुपयों को खातों में फ्रीज करा दिया है। पीड़िता ने अपने साथ ठगी होने की शिकायत साइबर सेल में की थी। जिसके बाद से लगातार साइबर पुलिस मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच कर रही थी। पूरा मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर का है।

टास्क देकर काम करने का देते थे झांसा

श्यामनगर निवासी प्रखर गुप्ता की पत्नी आकांक्षा गुप्ता को साइबर ठग घर बैठे ट्रेडिंग के जरिए रुपये कमाने का झांसा देकर टॉस्क देते थे। शुरू में तो आरोपियों ने उन्हें रुपये दिये थे, फिर ज्यादा रुपये कमाने का झांसा देकर एक टेलीग्राम एप में जोड़कर एक टास्क दिया।

इस पर पीड़िता ने आरोपियों के बताए कई खातों में करीब 36 लाख रुपये जमा कर दिये थे। बाद में आरोपियों ने पीड़िता का फोन उठाना बंद करने के साथ ही टेलीग्राम ग्रुप से निकाल दिया और इसके साथ ही उनका नंबर भी ब्लाक कर दिया था।

पीड़िता ने अपने साथ हुई ठगी की शिकायत साइबर सेल में 25 अप्रैल 2024 को की थी। साइबर सेल ने पीड़िता की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर ली थी। एसीपी क्राइम ने बताया कि साइबर क्राइम की टीम ने कानपुर सेंट्रल स्टेशन के गेट नं. 3 से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

बस्ती-अम्बेडकर नगर के रहने वाले हैं आरोपी

Kanpur Cyber ​​Fraud: Two accused who cheated a woman online of lakhs arrested, used to deceive people like this

  1. आरोपियों (Kanpur Cyber Fraud) ने अपने नाम मूल निवासी बस्ती के गौड जिला कपट्टा मंत्री व हाल पता लखनऊ के चिनहट नंदपुर सराब्लेख निवासी सुनील कुमार गुप्ता व अम्बेडकर नगर के इब्राहिमपुर बलरामपुर दसोवा गांव निवासी अजय पटेल बताया। पुलिस को आरोपियों के पास से पीड़िता द्वारा खाते में डाले गये नौ लाख रुपये में से सात लाख रुपये, चार मोबाइल, सात सिम व खात में यूज किया सिम मिला है। वहीं पुलिस ने संबंधित बैंक से संपर्क कर खातों में मिले रुपयों को फ्रीज करवा दिया है। गिरफ्तार आरोपियों को पुलिस ने जेल भेज दिया है।

कमीशन का देते थे लालच 

आरोपी अजय पटेल ने सुनील गुप्ता को कमीशन का लालच देकर उसके खाते का इस्तेमाल किया था। आरोपितों ने खाता प्राप्त करने के पश्चात पूर्व में रजिस्टर्ड नंबर परिवर्तित करा कर अपना मोबाइल नंबर डलवा दिया था। जिस पर आरोपी सुनील के खाते में नौ लाख रुपये आए थे।

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts