spot_img
Monday, June 17, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

Lok Sabha Election Voting: शर्त पूरी होगी तभी देंगे वोट… कानपुर के इस गांव ने मतदान के बदले प्रशासन से रखी ये शर्त

Lok Sabha Election Voting: उत्तर प्रदेश के कानपुर घाटमपुर के जलाला में मतदान शुरू होने के तीन घंटे बाद तक एक भी मतदाता वोट डालने नहीं पहुंचा तो प्रशासन के हाथपांव फूल गए। जानकारी करने पर पता चला कि यहां पर करीब डेढ़ महीने पहले सेल्समैन की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जिसका खुलासा न होने से ग्रामीणों में नाराजगी है। जिसको लेकर ग्रामीणों ने यहां पर मतदान का बहिष्कार किया है।

घाटमपुर एसडीएस, एसीपी और तहसीलदार ने पहुंचकर घटना का जल्द घटना का खुलासा (Lok Sabha Election 2024 Voting) करने का आश्वासन दिया। जिसके बाद ग्रामीण माने और ग्रामीणों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

अज्ञात लोगों ने 22 मार्च को हुई थी हत्या

घाटमपुर के जलाला गांव निवासी आनंद भदौरिया की बीते 22 मार्च को गांव के किनारे गोली मारकर अज्ञात बदमाशों ने हत्या कर दी थी। जिसका खुलासा आज तक घाटमपुर पुलिस नही कर पाई है। हत्या का खुलासा न होने से नाराज ग्रामीणों ने मतदान का बहिष्कार किया था। यहां पर पहुंचे घाटमपुर एसडीएम यादुवेंद्र सिंह वैश्य और एसीपी रंजीत कुमार सिंह ने ग्रामीणों को जल्द हत्या का खुलासा करने का आश्वासन दिया है।

पुलिस पर लापरवाही का आरोप

lok-sabha-election-voting-this-village-of-kanpur-put-this-condition-to-the-administration-in-exchange-of-voting

ग्रामीणों ने बताया की सेल्समैन की बाइक एक महीने बाद खेत में बरामद हुई थी, घाटमपुर पुलिस हत्या के मामले में लापरवाही बरत रही है। आरोप है, कि वह लोग घाटमपुर थाने जाते हैं, लेकिन घटना के खुलासे के मामले में पुलिस उन्हे कोई भी जानकारी नहीं देती है। जिसपर घाटमपुर एसडीएम और एसीपी ने ग्रामीणों को समझाने के साथ एक सप्ताह में खुलासा करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने बताया कि वह घटना के खुलासे के नजदीक हैं। जल्द घटना का खुलासा पुलिस करेगी।

एसटीएफ को मामला सौंपने की मांग

ग्रामीणों ने घाटमपुर एसडीएम यादुवेंद्र सिंह वैश्य और एसीपी रंजीत कुमार सिंह ने लोगों को एक सप्ताह में खुलासा करने का आश्वासन दिया है। वहीं ग्रामीणों से घाटमपुर इंस्पेक्टर प्रदीप कुमार सिंह ने कहा कि मैं खुद में एसटीएफ हूं, मैं सेल्समैन की हत्या के मामले की विवेचना कर रहा हूं। मैं आपको आश्वासन देता हूं कि घटना का खुलासा कर दूंगा, मुकदमे में निर्दाेष लोगो को नामजद किया गया है। मैं निर्दाेष को जेल नही भेजूंगा, लेकिन जल्द घटना का खुलासा करूंगा, जिसमे आप सभी का सहयोग चाहिए।

आश्वासन के बाद मृतक के भाई और दादा ने डाला पहला वोट

घटना के खुलासे के आश्वासन के बाद जलाला गांव में स्थित पोलिंग बूथ में पहुंचकर मृतक सेल्समैन आनंद सिंह भदौरिया के भाई अमित और दादा जसवंत सिंह ने पहला मतदान किया है। जिसके बाद ग्रामीणों ने मतदान करना शुरू किया। इसके बाद गांव के अन्य लोग भी यहां पर अपना वोट डालने पहुंचते रहे। जिसके बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली। वहीं मृतक के परिजनों का कहना था कि अगर प्रशासन द्वारा दिया गया आश्वासन समय पर पूरा नहीं होता है तो वह आंदोलन करने के लिए विवश हो जाएंगे।

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts