spot_img
Thursday, June 13, 2024
-विज्ञापन-

More From Author

पीयूष गोयल ने Startups को बताया नए भारत के विकास की रीढ़, उद्यमियों से कही ये बातें

भारतीय स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र में बढ़ती चुनौतियों के बीच पेटीएम (Paytm) और बायजू (Byju)के लिए बढ़ती परेशानियों पर केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने मंगलवार को स्टार्टअप को देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ करार दिया। ‘स्टार्टअप महाकुंभ’ के उद्घाटन कार्यक्रम में बोलते हुए गोयल ने कहा कि महत्वाकांक्षी भारत का स्टार्टअप क्षेत्र के साथ एकीकरण देश के विकास को गति देगा औऱ मेरा मानना है कि स्टार्टअप नए भारत की रीढ़ होंगे। यह सूर्य के नीचे हमारा समय है, और सूर्य उग रहा है।

RBI सख्ती के बाद सरकार ने स्टार्टअप सेक्टर की चिंताओं को कम किया

गोयल ने स्टार्टअप्स से भारतीय अर्थव्यवस्था में बढ़ते अवसरों का लाभ उठाकर विस्तार करने को पर कहा कि मुझे आशा है कि हमारी बस नहीं छूटेगी। मुझे उम्मीद है कि सभी स्टार्टअप्स के लिए यह संदेश स्पष्ट और स्पष्ट हो जाएगा कि वे इस अवसर को न चूकें। पेटीएम पर भारतीय रिजर्व बैंक की सख्ती के बाद सरकार ने स्टार्टअप सेक्टर की चिंताओं को दूर करने की कोशिश की है। देश की सबसे बड़ी एडटेक फर्म बायजू में गहराते संकट से भारत के स्टार्टअप इकोसिस्टम का मूड भी खराब हो गया है।

वित्त मंत्री ने सोमवार को प्रमुख फिनटेक कंपनियों के प्रमुखों से की मुलाकात

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को प्रमुख फिनटेक कंपनियों के प्रमुखों से मुलाकात की और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को स्टार्टअप और वित्तीय प्रौद्योगिकी कंपनियों की चिंताओं को दूर करने के लिए मासिक बैठकें आयोजित करने का निर्देश दिया और स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र में भावनाओं को बढ़ावा देने के लिए, उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग मार्च में मेगा स्टार्टअप कार्यक्रम का आयोजन करेगा।

वहीं गोयल ने आगे कहा किस्टार्टअप महाकुंभ के तीन दिनों के दौरान, स्टार्टअप निवेशकों और संबंधित हितधारकों के साथ जुड़ने और विचारों के साथ एक-दूसरे का समर्थन करने और दूसरों के अनुभव से सीखने के लिए एक उप पारिस्थितिकी तंत्र बनाने में सक्षम होंगे।

ये भी पढ़ें- FY 2024-25 में उड़ानों में 40 प्रतिशत इजाफे की उम्मीद, इन देशों के लिए शुरू होगी सीधी फ्लाइट

Latest Posts

-विज्ञापन-

Latest Posts